WEF (World Economic Forum) के जेंडर गैप सूचकांक 2021 में भारत 140वें स्थान पर || अप्रैल 2021

Share Now
Loading❤️ Add to Favorites

WEF (World Economic Forum) के जेंडर गैप सूचकांक 2021 में भारत (India) 140वें स्थान पर || अप्रैल 2021

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम द्वारा ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट 2021 में 156 देशों में से भारत 140वें स्थान पर 28 स्थान नीचे खिसक गया है। 2020 में, भारत 153 देशों में से 112 वें स्थान पर था। आइसलैंड ने 12 वीं बार दुनिया में सबसे अधिक लैंगिक-समता वाले देश के रूप में सूचकांक में शीर्ष स्थान हासिल किया है। रिपोर्ट में अफगानिस्तान सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला देश है।

● दक्षिण एशिया (South Asia) :

• भारत ?? दक्षिण एशिया (South Asia) में तीसरा सबसे खराब प्रदर्शन करने वाला देश बन गया।

• दक्षिण एशिया (South Asia) में बांग्लादेश ?? का सबसे अच्छा प्रदर्शन है।

• भारत के पड़ोसियों में, बांग्लादेश 65 वें, नेपाल 106 वें, पाकिस्तान 153 वें, अफ़गानिस्तान 156 वें, भूटान 130 वें और श्रीलंका 116 वें स्थान पर है।

• दक्षिण एशिया (South Asia) में, केवल पाकिस्तान और अफ़गानिस्तान भारत से नीचे थे।

● शीर्ष 10 लैंगिक-समता वाला देश :

  1. आइसलैंड ??
  2. फ़िनलैंड ??
  3. नॉर्वे ??
  4. न्यू ज़ीलैण्ड ??
  5. रवांडा ??
  6. स्वीडन ??
  7. नामीबिया ??
  8. लिथुआनिया ??
  9. आयरलैंड ??
  10. स्विट्ज़रलैंड ??

● ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट :

• ग्लोबल जेंडर गैप रिपोर्ट 2021 WEF द्वारा वार्षिक प्रकाशन का 15 वां संस्करण है।

• ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स को विश्व आर्थिक मंच द्वारा पहली बार 2006 में चार आयामों: आर्थिक अवसर, शिक्षा, स्वास्थ्य और राजनीतिक नेतृत्व में देशों के जेंडर गैप की तुलना करने के लिए पेश किया गया था।

● सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य :

• विश्व आर्थिक मंच मुख्यालय : कोलोन, स्विट्जरलैंड
• विश्व आर्थिक मंच के संस्थापक : क्लॉस एम श्वाब
• विश्व आर्थिक मंच की स्थापना : जनवरी 1971