19 जनवरी का इतिहास एवं महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

Share Now
Loading❤️ Add to Favorites

जानें 19 जनवरी का इतिहास एवं महत्त्वपूर्ण घटनाएँ

▪️1649 – इंग्लैंड नरेश ‘चार्ल्स प्रथम’ के ख़िलाफ़ मुकदमा शुरू हुआ।

▪️1668 – किंग लुईस चौदहवां तथा सम्राट लियोपेल्ड प्रथम ने स्पेन के बंटवारे को लेकर समझौते पर हस्ताक्षर किये।

▪️1764 – जॉन विल्क्स को राजद्रोह के लिए ग्रेट ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमन्स से बाहर कर दिया गया।

▪️1795 – फ्रांसीसी फ़ौजों ने हॉलैंड को तबाह किया।

▪️1812 – बेलिंगटन के ड्यूक के नेतृत्व में स्पेन ने कई महत्त्वपूर्ण शहरों पर कब्ज़ा किया।

▪️1829 – अगस्त कलिंगमैन की जोहान वोल्फगैंग वॉन फ़ाउस्ट का ब्राउनश्विक में प्रीमियर किया गया।

▪️1839 – ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी ने यमन के शहर अदन को जीत लिया।

▪️1905 – बंगला साहित्यकार देवेन्द्रनाथ टैगोर ने आखरी सांस ली।

▪️1910 – जर्मनी तथा बोलिविया के वाणिज्यिक तथा दोस्ताना समझौता समाप्त।

▪️1918 – बोलेविको ने पेट्रोगाड स्थित संविधान सभा को भंग कर दिया।

▪️1920 – अलेक्जेंडर मिलरैंड ने फ्रांस में सरकार का गठन किया।

▪️1921 – मध्य अमेरिकी देशों कोस्टारिका, ग्वाटेमाला, होंडुरस तथा अल सल्वाडोर ने समझौते पर हस्ताक्षर किये।

▪️1927 – ब्रिटेन ने अपनी सेना को चीन भेजने का निर्णय लिया।

▪️1938 – जनरल मोटर्स ने डीजल इंजन का बड़े स्तर पर उत्पादन शुरू किया।

▪️1938 – जनरल फ्रांसिस्को फ्रैंको के समर्थक सैनिकों ने बार्सीलोना और वैलेसिया शहरों पर बमबारी की, जिससे 700 व्यक्ति मारे गए।

▪️1941 – ब्रिटेन की सेना ने अफ्रीकी देश सूडान के कसलफ पर कब्जा किया।

▪️1942 – ‘द्वितीय विश्वयुद्ध’ के दौरान जापान ने बर्मा (वर्तमान म्यांमार) पर कब्ज़ा किया।

▪️1945 – सोवियत सेनाओं ने द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान पोलैंड की लोद्ज यहूदी बस्ती को नाज़ी पहरे से आज़ाद कराया।

▪️1949 – कैरेबियाई देश क्यूबा ने इजरायल को मान्यता दी।

▪️1956- सूडान अरब लीग का नौंवा सदस्य बना।

▪️1960 – अमेरिका और जापान के बीच आपसी सुरक्षा समझौता हुआ।

▪️1966 – इंदिरा गाँधी को भारत का तीसरा प्रधानमंत्री चुना गया।

▪️1975- हिमाचल प्रदेश में भूकंप आया।

▪️1977 – समुद्र तटों के लिए प्रसिद्ध अमेरिका के मिआमी शहर में पहली बार बर्फ़ गिरी।

▪️1981 – अमेरिकी तथा ईरान के बीच समझौते के तहत 52 अमेरिकी बंधकों को रिहा किया गया।

▪️1986 – पहला कम्प्यूटर वायरस ‘सी.ब्रेन’ सक्रिय किया गया।

▪️1992 – इज़रायल के प्रधानमंत्री ‘चितजाक मीर’ की मिली-जुली सरकार ने संसद में बहुमत खो दिया।

▪️1995 – चेचन्या के अलगाववादी राष्ट्रपति भवन से भाग निकले और रूसी तोपख़ाने ने उसे नष्ट कर दिया।

▪️2001 – थाइलैंड में रॉक थाइ पार्टी को बहुमत मिला।

▪️2001 –  तालिबान पर सुंयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंध प्रभावी हुए।

▪️2002 – पाकिस्तान के राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ़ ने किसी भी ग़ैर-पाकिस्तानी आतंकवादी पाकिस्तान में होने से इन्कार किया।

▪️2003 – मिस्र ने इस्रायल पर हमले रोकने संबंधी अपने प्रस्ताव के बारे में काहिरा में होने वाली बातचीत के लिए फ़िलिस्तीनी गुटों को आमंत्रित किया।

▪️2003 – भारतीय राजनयिक ‘सुधीर व्यास’ को पाकिस्तान में प्रताड़ित किया गया।

▪️2004 – हिमाचल प्रदेश में चम्बा ज़िले के गरौला गांव में एक बस के नदी में गिर जाने से 21 लोग मारे गए।

▪️2005 – सानिया मिर्ज़ा लॉन टेनिस के ‘आस्ट्रेलिया ओपन’ के तीसरे दौर में पहुँचने वाली पहली भारतीय महिला बनीं।

▪️2007 – जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार ओमान के सुल्तान काबूस बिन सईद बिन तैमूर अल सईद को प्रदान करने का फैसला।

▪️2008 – सार्वजनिक क्षेत्र की ‘पेट्रोलियम कंपनी’ ‘इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन’ ने ‘ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल इंडिया’ के साथ समझौता किया।

▪️2008 – श्रीलंका की सेना ने उत्तरी इलाके में हुए संघर्ष में उग्रवादी संगठन लिट्टे के 31 उग्रवादी मार गिराये।

▪️2009 – झारखण्ड में राजनीतिक अनिश्चितता को समाप्त करते हुए केन्द्रीय कैबिनेट ने ‘राष्ट्रपति शासन’ लगाने का निर्णय किया।

▪️2009 – ‘सूर्यशेखर गांगुली’ ने ‘पार्श्वनाथ शतरंज ख़िताब’ जीता।

▪️2010- पश्चिम बंगाल बिहार और उड़ीसा ने बीटी बैंगन का विरोध किया। देश के कुल बैंगन उत्पादन में इन तीन राज्यों का 60 प्रतिशत हिस्सा है। 

▪️2013 – स्काटलैंड के ग्लेन कोए में हिमस्खलन में चार पर्वतारोहियों की मौत।

▪️2019 – मेक्सिको – पाइपलाइन से तेल चुराते वक्त धमाका, आग से लगभग 67 की मौत, 75 घायल ।

▪️2019 – वीडियो स्ट्रीमिंग ऐप्स पर वक्त बिताने में भारतीय दुनिया में सबसे आगे: रिपोर्ट।

▪️2020 – अफ्रीका के पश्चिमी तट से वाणिज्यिक पोत से अपहृत 19 भारतीयों को समुद्री लुटेरों ने रिहा किया।

▪️2020 – लेबनान: गिरती इकोनॉमी के मुद्दे पर प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प, 300 से ज्यादा घायल हुए।

▪️2020 – आंध्र प्रदेश के तट से  3,500 किलोमीटर की मारक क्षमता वाली K-4 बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण किया गया।


अधिक जानकारी के लिए आप हमसे संपर्क कर सकते है... +919610571004 (☎ & WhatsApp)